National Sports

टीम इंडिया की इस चौकड़ी ने पहले थ्रोडाउन का अभ्यास किया, क्योंकि इस वैकल्पिक सत्र में टीम का कोई भी विशेषज्ञ गेंदबाज मौजूद नहीं था। धवन और रायुडू ने दोनों हाथों से थ्रोडाउन का अभ्यास किया, जबकि धौनी ने इंडोर नेट में सहायक कोच संजय बांगड़ के साथ अभ्यास किया। वहीं, जाधव ने दो अलग-अलग नेट्स पर अभ्यास किया।

भारत के पूर्व विकेटकीपर फारूख इंजीनियर (Farokh Engineer) ने रविचंद्रन अश्विन (R Ashwin)) के आस्ट्रेलिया पर हाल में मिली टेस्ट सीरीज में जीत के दौरान प्रदर्शन की आलोचनात्मक टिप्पणी करने के लिए पूर्व टेस्ट ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) की आलोचना की।

इंजीनियर ने क्रिकेट क्लब ऑफ इंडिया में लीजेंड्स क्लब द्वारा आयोजित ‘टाक शो’ के दौरान कहा, ‘क्या आपने अश्विन के बारे में हरभजन की टिप्पणी पढ़ी, वह वहां सही नहीं था। पहला स्पिनर और दूसरा स्पिनर क्या है? स्पिनर स्पिनर ही है।’

वर्ष 1960 से 1970 दशक के शुरू तक भारत के नंबर एक विकेटकीपर रहे इंजीनियर ने कहा, ‘अश्विन बेहतरीन गेंदबाज है। मुझे ऐसा लगा कि वह (हरभजन) अश्विन की आलोचना कर रहा था। आप सार्वजनिक तौर पर इस तरह की बातें नहीं कर सकते, विशेषकर तब जब किसी आफ स्पिनर ने आपकी जगह ली हो। यह ऐसा ही है जैसे (महेंद्र सिंह धौनी) धौनी (रिषभ) पंत की आलोचना करें। यह क्रिकेट नहीं है।’

हरभजन ने मीडिया में कहा था कि अश्विन ऐसे समय में चोटिल हुए जब टीम को उनकी जरूरत थी और सिडनी में अंतिम टेस्ट में मौका दिए जाने वाले कुलदीप यादव ने इतनी अच्छ गेंदबाजी की कि उसे अब कहीं भी टेस्ट में नंबर एक स्पिनर समझा जाना चाहिए। रविंद्र जडेजा ने अंतिम दो टेस्ट में अपनी बायें हाथ की स्पिन से अच्छी गेंदबाजी की।

आपको बता दें कि ये वाक्या सिडनी टेस्ट मैच के दौरान का है। जब कुलदीप यादव ने ऑस्ट्रेलिया की धरती पर अपना पहला टेस्ट मैच खेलते हुए पांच विकेट लिए थे। इसके बाद हरभजन ने अश्विन को लेकर ये बात कही थी और इसके बाद उन्होंने कुलदीप की तारीफ करते हुए कहा था कि वो टीम इंडिया के पहले स्पिनर हैं। इसी बात पर भड़कते हुए फारूख इंजीनियर ने भज्जी की आलोचना की है।

Related posts

भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया – अंतिम ओवर के बारे में धोनी और रोहित की सलाह काम आई : विराट

digitalhimachal

कम आमदनी से कई टेलीकॉम कंपनियां बंद होने की कगार पर

digitalhimachal

मिलिए भारत की पहली महिला पहलवान सोनिका कालीरमन से

digitalhimachal

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy