Dharamshala News in Hindi Himachal Kangra News in Hindi Poltics

तत्तापानी को जल क्रीड़ा गंतव्य के रूप में विकसित किया जाएगाः मुख्यमंत्री

तत्तापानी को पर्यटन की दृष्टि से विकसित किया जाएगा क्योंकि इस क्षेत्र को जल क्रीड़ा गतंव्य के रूप में विकसित करने की अपार संभावनाएं हैं. मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने यह सोमवार को मंडी जिले के करसोग क्षेत्र में तत्तापानी में आयोजित एक विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए कहा.

मकर संक्रांति के शुभ अवसर पर राज्य के लोगों को बधाई देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य की समृद्ध सांस्कृतिक विविधता का संरक्षण करना हम सभी का कर्तव्य है. कौल बांध के निर्माण के फलस्वरूप यह क्षेत्र एक ऐसे स्थल के रूप में उभरा है, जिसे राज्य के एक प्रमुख जल खेल क्रीड़ा गंतव्य के रूप में विकसित किया जा सकता है.

ख्यमंत्री ने कहा कि पिछले एक वर्ष के दौरान राज्य सरकार ने प्रदेश के प्रत्येक क्षेत्र का एक समान और संतुलित विकास सुनिश्चित किया है. क्षेत्र के लिए मिनी सचिवालय भवन और आईटीआई भवन स्वीकृत किया गया है, जिसके निर्माण पर 14.86 करोड़ और लगभग 8 करोड़ रुपए की लागत आएगी.

उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र के विकास कार्यों के लिए के पीएमजीएसवाई 12.76 करोड़ रुपए नाबार्ड के तहत 3.32 करोड़ रुपए स्वीकृत किए गए हैं. जय राम ठाकुर ने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार को पिछली राज्य सरकार के वित्तीय कुप्रबंधन के कारण 46,500 करोड़ रुपए का ऋण भार विरासत में मिला है. उन्होंने कहा कि इस स्थिति से निपटने के लिए, राज्य सरकार ने केन्द्रीय निधि के लिए विकास परियोजनाओं को तैयार करने का निर्णय लिया है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के उदारता के कारण एक वर्ष की इस छोटी अवधि के दौरान राज्य को केंद्र सरकार से 9500 करोड़ रुपये की विकासात्मक परियोजनाओं को स्वीकृत करवाने में सफलता मिली है.

जनमंच आम आदमी के लिए वरदान 

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार द्वारा आरम्भ किया गया जनमंच आम आदमी की शिकायतों के तत्काल निवारण के लिए वरदान साबित हुआ है. राज्य के विभिन्न हिस्सों में आयोजित जन मंच में 22000 से अधिक शिकायतों का निपटारा किया गया है. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार का पहला निर्णय गरीबों और वृद्धों के कल्याण के लिए वृद्धावस्था पेंशन का लाभ उठाने के लिए यह आयु सीमा 80 साल से कम करके 70 साल कर दी गई है. उन्होंने कहा कि विपक्षी नेताओं ने उनकी दिल्ली यात्राओं के बारे में बहुत कुछ कहा है. लेकिन अब राज्य के विकास के लिए राज्य सरकार कि ओर से की बड़ी पहल के बाद, इन नेताओं के पास कहने के लिए कुछ नहीं है.

उन्होंने कहा कि हिमाचल गृहिणी सुविधा योजना के तहत, लाभार्थियों को लगभग 40,000 नए गैस कनेक्शन प्रदान किए गए हैं. हिमाचल प्रदेश इस साल मई के अंत तक हर घर में गैस कनेक्शन प्रदान करने वाला देश का पहला राज्य बन जाएगा. उन्होंने कहा कि राज्य के युवाओं को स्वरोजगार के अवसर प्रदान करने के लिए राज्य में मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना आरम्भ की गई है. उन्होंने कहा कि हिमकेयर योजना उन परिवारों को 5 लाख रुपए का स्वास्थ्य कवर प्रदान किया गया है, जो आयुष्मान भारत के तहत छूट गए थे.

जय राम ठाकुर ने कहा कि पिछली सरकार ने पर्याप्त बजटीय प्रावधान किए बिना शैक्षणिक और स्वास्थ्य संस्थान खोले थे. उन्होंने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार की पहली और सबसे बड़ी प्राथमिकता राज्य में मौजूदा स्वास्थ्य और शैक्षणिक संस्थानों को मजबूत करना है.

तत्तापानी में घाटों के निर्माण की आधारशिला रखी

इससे पहले, मुख्यमंत्री ने तत्तापानी में घाटों के निर्माण की आधारशिला रखी, जिसे एनटीपीसी कि ओर से प्रायोजित किया जाएगा तथा इसके निर्माण पर 123 लाख रुपए की लागत आएगी. उन्होंने सतलुज नदी तट के सौंदर्यीकरण और संरक्षण कार्यों का शिलान्यास रखी, जिसे एनटीपीसी द्वारा प्रायोजित किया जाएगा.  इसके निर्माण पर 105.72 लाख रुपए की लागत आएगी.

मुख्यमंत्री ने 6.76 करोड़ रुपए की लागत से निर्मित जसवाल-सविधार उठाऊ जल आपूर्ति योजना का लोकार्पण किया. इस योजना से क्षेत्र की 58 बस्तियों के 3600 से अधिक लोग लाभान्वित होंगे. इस अवसर पर उन्होंने लोगों को संबोधित किया और सरकार की विभिन्न उपलब्धियों की विस्तृत जानकारी दी. उन्होंने चनियाना मैदान के लिए 5 लाख रुपए और शकरोडी से जस्सल और साज से खंगरोट सड़क के निर्माण के लिए 10-10 लाख रुपए देने की घोषणा की.

मुख्यमंत्री ने तत्तापानी में प्रसिद्ध नारसिंह मंदिर और शनि देव मंदिर का भी दौरा किया और मकर सक्रांति के अवसर पर पूजा की. मुख्यमंत्री ने राज्य सरकार के ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ योजना के तहत लाभार्थियों को उपहार प्रदान किए.
मुख्यमंत्री ने पांगणा में लोक निर्माण विभाग के उपमण्डल और तत्तापानी में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र खोलने की भी घोषणा की. उन्होंने क्षेत्र के पांच महिला मंडलों के लिए 3-3 लाख रुपए, राजकीय माध्यमिक विद्यालय गुदरोधार को उच्च पाठशाला में स्तरोन्नत करने तथा मेला मैदान तत्तापानी के विकास के लिए पांच लाख रुपए और बिघन खड्ड और सतलुज नदी पर पुल बनाने की भी घोषणा की.

सांसद राम स्वरूप शर्मा ने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार के कार्यभार संभालने के बाद से विकास को गति मिली है। उन्होंने कहा कि तत्तापानी क्षेत्र में पर्यटन की अपार संभावनाएं हैं तथा इनका क्षेत्र के विकास के लिए इसका दोहन किया जाना चाहिए.

विधायक हीरा लाल ने कहा कि तत्तापानी राज्य के लोगों के लिए एक पवित्र स्थान है तथा जिसका और अधिक विकास किया जाना चाहिए। उन्होंने क्षेत्र की विभिन्न विकासात्मक मांगों को भी रखा तथा तत्तापानी में घाटों के सौंदर्यीकरण का शिलान्यास करने के लिए मुख्यमंत्री को धन्यवाद किया, जिससे यहां आने वाले लोगों को सुविधा मिलेगी.

निःशुल्क चिकित्सीय शिविर का शुभारम्भ किया

इससे पूर्व, मुख्यमंत्री ने हेडगेवार स्मारक समिति द्वारा आयोजित निःशुल्क चिकित्सा और रक्तदान शिविर का शुभारम्भ किया. समिति के प्रयासों की सराहना करते हुए, मुख्यमंत्री ने कहा कि यह ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को बेहतर स्वास्थ्य देखभाल सुविधा प्रदान करने में सहायक होगी. उन्होंने कहा कि समिति द्वारा आरम्भ की गई ‘श्यामला मोबाइल हेल्थ वैन’ लोगों को शिमला के 40 किलोमीटर के आस-पास स्वास्थ्य देखभाल की सुविधा प्रदान करेगी.

मुख्यमंत्री ने कहा कि केशव बलिराम हेडगेवार, जिन्हें संगठन के भीतर ‘डॉक्टर जी’ के नाम से जाना जाता है, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के संस्थापक सरसंघचालक थे. ऐसे महान व्यक्तित्व की स्मृति में गठित समिति द्वारा किए जा रहे परोपकारी कार्य वास्तव में प्रशंसनीय है. इस अवसर पर समिति के अध्यक्ष बोध राज शर्मा ने मुख्यमंत्री और अन्य गणमान्य व्यक्तियों का स्वागत किया.

इससे पूर्व, सुन्नी से तत्तापानी के लिए जाते हुए, मुख्यमंत्री ने युवा और छात्र कल्याण संघ द्वारा आयोजित शिमला ग्रामीण क्रिकेट गोल्ड कप टूर्नामेंट के दौरान लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि खेल गतिविधियों से न केवल युवाओं के सवार्गींण विकास में बल्कि नशे को रोकने में भी मदद मिलती है.  शिमला ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र के भाजपा नेता डॉ. प्रमोद शर्मा ने कहा कि इस प्रतियोगिता में 75 टीमें भाग ले रही हैं, जिसका शुभारम्भ कृषि मंत्री डॉ. राम लाल मारकंडा ने किया था.

Related posts

CSK vs RCB Live Score, IPL T20: चेन्नई के सामने 70 का लक्ष्य, जाधव-रायडू क्रीज पर

digitalhimachal

एमएमयू में एमबीबीएस कोर्स के लिए स्टेट कोटा 50 फीसद होगा

digitalhimachal

चारों क्षेत्रों से नब्ज़ टटोलने के बाद राठ़ौर दिल्ली रवाना, हाईकमान को देंगे रिपोर्ट

digitalhimachal

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy