Himachal National Poltics

दिल्ली में शीर्ष उद्योगपतियों से मिले CM जयराम, हिमाचल में निवेश का दिया न्यौता

सीएम ने उद्योगपतियों को राज्य सरकार की निवेशक अनुकूल नीतियों के बारे में बताया और कहा कि राज्य में शांतिपूर्ण माहौल, बेहतर कानून व व्यवस्था की स्थिति है और राज्य के उद्योग विभाग द्वारा तीव्र मंजूरी के लिए तंत्र विकसित किया गया है.

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने पर्यटन और आतिथ्य, नवीकरणीय ऊर्जा, स्वास्थ्य देखभाल विनिर्माण और इंजीनियरिंग सामान, शिक्षा कौशल विकास, खाद्य प्रसंस्करण सहित विभिन्न क्षेत्रों में निवेश को आकर्षित करने के उद्देश्य से नई दिल्ली में प्रमुख औद्योगिक घरानों के शीर्ष उद्योगपतियों से मुलाकात की. बैठक का आयोजन भारतीय उद्योग परिसंघ ने किया, जो धर्मशाला में जून 2019 में आयोजित होने वाले वैश्विक निवेशक सम्मेलन के राष्ट्रीय भागीदार है.

सरकारी की नीतियां बताईं
सीएम ने उद्योगपतियों को राज्य सरकार की निवेशक अनुकूल नीतियों के बारे में बताया और कहा कि राज्य में शांतिपूर्ण माहौल, बेहतर कानून व व्यवस्था की स्थिति है और राज्य के उद्योग विभाग द्वारा तीव्र मंजूरी के लिए तंत्र विकसित किया गया है. उन्होंने निवेशकों का राज्य में स्वागत किया और उन्हें भूमि उपलब्धता, बेहतर विद्युत आपूर्ति और शीघ्र मंजूरी के संबंध में हर संभव सहायता प्रदान करने का आश्वासन दिया. उन्होंने उद्योगपतियों से परियोजना प्रस्तावों को जल्द से जल्द भेजने का अनुरोध किया और उन्हें जून 2019 में धर्मशाला में ग्लोबल इन्वेस्टर्स मीट में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया.

उदारीकरण पर काम

मुख्यमंत्री ने निवेशकों के साथ वर्तमान औद्योगिकीकरण में सुधार लाने और इसे आगे बढ़ाने और राज्य में औद्योगीकरण को मजबूत करने के संबंध में विस्तारपूर्वक एवं सार्थक चर्चा की. मुख्यमंत्री ने निवेशकों को यह भी अवगत करवाया कि राज्य मौजूदा निवेश को उदार बनाने के अलावा निवेशकों की सुविधा के लिए नई नीतियां बनाने पर कार्य कर रहा है. निवेशकों ने मुख्यमंत्री को आश्वासन दिया कि वे जल्द ही ठोस प्रस्तावों और निवेश योग्य परियोजनाओं के साथ आएंगे। उन्होंने बैठक के दौरान बहुमूल्य जानकारी भी दी.

ये बोले सीएम
मुख्यमंत्री ने बताया कि अधिकांश निवेशकों ने कौशल विकास क्षेत्र और सौर ऊर्जा के अलावा चिकित्सा उपकरण निर्माताओं विशेष रूप से हृदय वाल्व में गहरी रुचि दिखाई. मुख्यमंत्री से मिलने वालों में प्रमुख रुप से हीरो कॉरपोरेट सर्विसेज के अध्यक्ष एस.के. मुंजाल, मुंजाल ऑटो इंडस्ट्रीज के पूर्वकालीन निदेशक अनुज मुंजाल, जेबीएम समूह के अध्यक्ष एस.के. आर्य, रेडिसन समूह के अध्यक्ष के.बी काचरू, हिंदुस्तान पावर प्रोजेक्ट्स के अध्यक्ष रतुल पुरी पवनहंस लिमिटेड के चेयरमैन बी.पी. शर्मा, बर्ड गु्रप की चेयरमैन राधा भाटिया, आनंद डेयरी के अध्यक्ष आर.एस दीक्षित तथा इंडियन सव कान्टिनेंट मेडट्रॉनिक प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक अमित के सिंह शामिल थे. बैठक में मुख्य सचिव बी. के. अग्रवाल तथा अतिरिक्त मुख्य सचिव उद्योग मनोज कुमार भी उपस्थित थे.

Related posts

सुलह के नोरा में लगे किशन कपूर गो बैक के नारे ।

digitalhimachal

चंबा: 17 साल की युवती ने कमरे में फंदा लगाकर दी जान

digitalhimachal

लोकसभा चुनाव हिमाचल में मतदान शुरू; 53 लाख 30 हजार मतदाता चुनेंगे 4 सांसद

digitalhimachal

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy