Dharamshala News in Hindi Himachal

मजदूर का बेटा कॉलेज में पढ़ाएगा अर्थशास्त्र

कुठारना के राम रत्न बने अर्थशास्त्र के सहायक प्रोफेसर

धर्मशाला। विधान सभा क्षेत्र शाहपुर की कुठारना पंचायत के मजदूर बालक राम का बेटा अब महाविद्यालय में विद्यार्थियों को अर्थशास्त्र पढ़ाएगा। कुठारना के बालक राम और कमला देवी के बेटे राम रत्न का चयन सहायक प्रोफेसर अर्थशास्त्र के पद पर हुआ है। राम रत्न हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. सिकंदर कुमार के निरीक्षण में पीएचडी कर रहे हैं, जबकि पांच बार यूजीसी नेट, जेआरएफ और सेट की परीक्षाएं पास की हैं।

राम रत्न अब राजकीय महाविद्यालय खुंडियां में अर्थशास्त्र पढ़ाएंगे। वहीं, राम रत्न ने शिक्षक के तौर पर अपना करियर 2014 में एमएलएसएम कॉलेज सुंदरनगर से सहायक प्रोफेसर अर्थशास्त्र के रूप में किया था। साल 2017 में पीजीटी अर्थशास्त्र के पद पर उनका चयन हुआ था।



उन्होंने राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला भांदल (चंबा) में अपनी सेवाएं दीं, जबकि केंद्रीय विद्यालय और नवोदय विद्यालय में पीजीटी अर्थशास्त्र के तौर पर भी उनका चयन हुआ था, लेकिन महाविद्यालय के प्रोफेसर के लक्ष्य लेकर चले रात रत्न ने अपनी सेवा चयन आयोग की परीक्षा की तैयारी जारी रखी और तीसरे मौके में सफलता हासिल की। इससे पूर्व 2015 और 2017 में भी लिखित परीक्षा पास कर साक्षात्कार दिया था।

इससे पूर्व राम रत्न ने स्कूल की शिक्षा गांव से ही पूरी की, जबकि राजकीय महाविद्यालय शाहपुर से स्नात्तक, राजकीय शिक्षक महाविद्यालय धर्मशाला से बीएड, हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय से एमए और एमफिल की पढ़ाई की।

राम रत्न के पिता बालक राम मजदूरी करते हैं और माता कमला देवी गृहिणी हैं। राम रत्न पांच भाइयों में तीसरे नंबर पर हैं और दो बहने हैं। राम रत्न का कहना है कि उनके माता-पिता पढ़े-लिखे नहीं हैं, लेकिन वे शिक्षा के महत्व को समझते हैं। इसी का नतीजा है कि उन्होंने आर्थिक तंगी के बावजूद सभी बच्चों को उच्च स्तरीय शिक्षा दिलवाई।

Related posts

6 राज्यों के पुलिस अधिकारियों ने नशे का खात्मा करने का संकल्प लिया

digitalhimachal

आईपीएल 2019: मैच 8, सनराइजर्स हैदराबाद VS राजस्थान रॉयल्स, संभावित प्लेइंग इलेवन और फैंटेसी क्रिकेट टिप्स

digitalhimachal

ऊना-बिहडू सड़क बनेगी 51 करोड से – अनुराग

digitalhimachal

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy