Poltics Uncategorized

हुड्डा के यहां सीबीआई छापों पर भड़की कांग्रेस

नई दिल्ली। सीबीआई द्वारा पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के अलावा दिल्ली एनसीआर के 30 ठिकानों पर हुई छापामार कार्रवाई पर राजनीति शुरू हो गई है। कांग्रेस ने इस कार्रवाई को राजनीतिक दुर्भावना करार दिया है। जहां एक तरफ छापे की कार्रवाई जारी थी वहीं कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने प्रेस कॉन्फ्रेस करते हुए सरकार पर निशाना साधा।

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार राजनीतिक दुर्भावना से काम कर रही है और वे सरकार में आने पर ऐसे सब मामलों की जांच करवाएंगे। उन्होंने कहा कि आज जो अधिकारी राजनीतिक आकाओं के कहने पर अपने पद का दुरुपयोग कर रहे हैं उन्हें ये जान लेना चाहिए कि इस देश में कानून का राज चलेगा।

गौरतलब है कि शुक्रवार सुबह से हरियाणा और दिल्ली-एनसीआर समेत करीब 30 जगहों पर सीबीआई छापेमारी कर रही है। बताया जा रहा है कि हाल ही में दर्ज हुए भूमि अधिग्रहण के मामले में लगे आरोपों के सिलसिले में ये कार्रवाई हो रही है। सुबह जब भूपेंद्र सिंह हुड्डा के घर छापा मारा गया तो वे घर पर ही मौजूद थे। सीबीआई ने छापेमारी के दौरान न तो किसी को घर के अंदर जाने दिया गया और न ही किसी को बाहर निकलने दिया गया। छापे की इस कार्रवाई से शहर में सनसनी फैल गई।

वहीं, कांग्रेस नेता ने दिल्ली में पत्रकारवार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि आज जींद में होने जा रहे उपचुनाव के लिए प्रचार का आखिरी दिन था। भूपेंद्र सिंह हुड्डा यहां कांग्रेस उम्मीदवार रणदीप सिंह सुरजेवाला के प्रचार के लिए एक रैली को संबोधित करने वाले थे। लेकिन सुबह से ही सरकार के इशारे पर ये कार्रवाई की गई। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार को हार का डर सता रहा है।

बता दें कि जींद में 28 जनवरी को उपचुनाव के लिए मतदान होना है। वैसे तो शनिवार को चुनाव प्रचार का आखिरी दिन है लेकिन गणतंत्र दिवस के चलते सभी पार्टियों के लिए आज का दिन प्रचार के लिए एक तरह से अंतिम दिन है।

Related posts

अपनों की पलटीबाजी ने उलझाई भाजपा

digitalhimachal

Sarkari Naukri: यूपी पुलिस, CISF, HSSC और SBI में निकली बंपर वैकेंसी, जल्द करें आवेदन

digitalhimachal

कांग्रेस के मैनिफेस्टो पर BJP का हमला, अरुण जेटली बोले- घोषणा पत्र में किए गए वादे खतरनाक

digitalhimachal

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy