Govt Jobs in Himachal Pradesh Himachal

टीजीटी के 277 पद भरे जाएंगे, CM के निर्वाचन क्षेत्र सिराज को मिला तहसील कल्याण कार्यालय

शिमला: मंगलवार को विधानसभा सत्र के बाद देर रात तक चली कैबिनेट बैठक में प्रदेश सरकार ने टीजीटी के 277 पद भरने सहित कुछ अन्य फैसले लिए.

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की अध्यक्षता में आयोजित कैबिनेट मीटिंग में मंडी, धर्मशाला और शिमला में फैमिली कोर्ट खोलने का फैसला लिया है. इस फैसले का मकसद घरेलू और पारिवारिक झगड़ों को अलग से सुनने की व्यवस्था करना है. कैबिनेट में बोर्ड परीक्षाओं के करीब 10 हजार टॉपर्स को लैपटॉप देने पर लंबे समय तक चर्चा हुई. मंत्रियों के सुझावों व अफसरों के तर्कों के बीच लंबी चर्चा के बाद भी लैपटॉप देने के मामले में कोई अंतिम फैसला नहीं हुआ.

बता दें कि भाजपा ने चुनाव से पूर्व अपने विजन डॉक्यूमेंट में कॉलेज टॉपर्स को भी इंटरनेट डाटा कार्ड के साथ लैपटॉप देने का वादा किया है. कैबिनेट में यही चर्चा अधिक समय तक होती रही कि कौन सी योजना को किस रूप में आगे बढ़ाया जाए. आखिरकार इस मसले पर कैबिनेट में कोई अंतिम फैसला नहीं हो पाया.



कैबिनेट के अन्य फैसलों के अनुसार, सिरमौर जिला के माता बालासुंदरी एरिया में त्रिलोकपुर को स्पेशल एरिया डेवल्पमेंट अथारिटी यानी साडा का दर्जा दिया गया है. इसके साथ ही चंबा जिला के सलूणी में आईटीआई, ठियोग के देहा और कुल्लू के पतलीकूहल में पुलिस पोस्ट को थाने में अपग्रेड करने का फैसला लिया गया.

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के चुनाव क्षेत्र सिराज के बालीचौकी इलाके को तहसील कल्याण अधिकारी का कार्यालय मंजूर हुआ है. कैबिनेट ने जनमंच की समीक्षा की और डीआरओ मंडी, पुलिस और जेल विभाग, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को नई गाड़ियां खरीदने की मंजूरी दी. सोलन जिला के डीसी ऑफिस में अलग-अलग श्रेणियों के दस पद भरने और कांगड़ा की थिल पंचायत में आयुर्वेद स्वास्थ्य केंद्र खोलने को भी मंजूरी दी गई.

Related posts

आर्थिक तंगी की हर बाधा को पार कर CA बना बिलासपुर का ये युवक

digitalhimachal

WI से जीते लेकिन वर्ल्ड कप में भारत के लिए मुसीबत बन सकती है धोनी की यह कमजोरी

digitalhimachal

राष्ट्र को मोदी जैसे पीएम की आवश्यकता, जयराम सरकार ने पूरे किए 13 महीने -अमित शाह

digitalhimachal

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy