आउटसोर्स एजेंसियों से रिकवरी करेगी हिमाचल सरकार, जानिए पूरा मामला

Himachal IPH Minister Mahendra Singh Thakur Shimla News in Hindi

प्रदेश की सिंचाई स्कीमों में तैनात आउटसोर्स कर्मियों की लापरवाही से पंप व अन्य उपकरण खराब होने पर सरकार सख्त रुख अपनाने जा रही है। आईपीएच मंत्री ठाकुर महेंद्र सिंह ठाकुर ने विधानसभा में एलान किया कि आउटसोर्स पर दी गई योजनाओं में खराब हुए पंप और अन्य उपकरणों को ठीक कराने के लिए अब आउटसोर्स एजेंसियों से रिकवरी की जाएगी।

सीपीएम विधायक राकेश सिंघा के एक सवाल के जवाब में मंत्री ने कहा कि यह बात सही है कि प्रदेश की 564 स्कीमें आउटसोर्स आधार पर चल रही हैं। लेकिन सरकार और स्कीमों को आउटसोर्स आधार पर चलाने की इच्छुक नहीं है। लेकिन चूंकि विभाग में वर्तमान में दस हजार एक सौ दो पद रिक्त पडे़ हैं। इसलिए मजबूरन आउटसोर्सिंग के जरिये स्कीमों को चलाया जा रहा है।

हालांकि उन्होंने आश्वस्त किया कि सरकार इन रिक्त पदों को भरने व नई बनने वाली स्कीमों के साथ ही नए पद सृजित करने व भरने को लेकर भी विचार कर रही है। इस संबंध में मुख्यमंत्री को निर्णय लेना है और निर्णय होते ही आगे की कार्रवाई शुरू हो जाएगी। इससे पहले सिंघा ने चिंता जताई थी कि योजनाएं आउटसोर्स पर देने से सरकारी उपकरणों की दुर्गति हो रही है। आरोप लगाया कि आउटसोर्स कर्मचारी लापरवाही करते हैं जिसके चलते सरकार के करोड़ों के पंप और उपकरण फूंक रहे हैं और इस पर किसी की जवाबदेही नहीं है।

Related posts

शराब पीकर गाड़ी चलाने पर छह लोगों को हुई जेल

digitalhimachal

डॉ. बिंदल का नाहन का चौकीदार वीडियो वायरल

digitalhimachal

वीरभद्र सिंह को हुआ स्वाइन फ्लू, टेस्ट रिपोर्ट आई पॉजिटिव

digitalhimachal

Leave a Comment