Himachal National

नजीब की मां बोलीं ‘अगर आप चौकीदार हैं तो मेरा बेटा कहां है’

ट्वीट के जरिए नजीब की मां फातिमा ने पूछा है कि अगर आप चौकीदार हैं तो मेरा बेटा नजीब कहां है. एबीवीपी के आरोपी गिरफ्तार क्यों नहीं हो रहे हैं. क्यों देश की तीन टॉप एजेंसी मेरे बेटे की तलाश में फेल हो गई हैं.

पीएम नरेंद्र मोदी के ट्वीट के जवाब में जेएनयू के गायब चल रहे छात्र नजीब अहमद की मां फातिमा नफीस ने भी एक ट्वीट किया है. ट्वीट के जरिए फातिमा ने पूछा है कि अगर आप चौकीदार हैं तो मेरा बेटा नजीब कहां है.

दरअसल, पीएम नरेंद्र मोदी ने शनिवार को ‘मैं भी चौकीदार’ हैशटैग के साथ एक ट्वीट कर कहा था, ‘आपका चौकीदार मजबूती से खड़ा है और देश की सेवा कर रहा है. लेकिन, मैं अकेला नहीं हूं. हर कोई जो भ्रष्टाचार, गंदगी और सामाजिक बुराइयों से लड़ा रहा है, वह चौकीदार है. भारत की प्रगति के लिए जो भी कड़ी मेहनत कर रहा है, वह चौकीदार है. आज हर भारतीय कह रहा है, मैं भी चौकीदार.’

इससे पहले, एयर फोर्स के विंग कमांडर अभिनन्दन वर्धमान की पाकिस्तान से रिहाई होने पर नजीब की मां ने एक ट्वीट किया था कि “पायलट अभिनन्दन को तो पाकिस्तान ने रिहा कर दिया, लेकिन एबीवीपी मेरे बेटे नजीब को कब रिहा करेगी.”

 

शनिवार को किए गए अपने ट्वीट में नजीब की मां ने ये भी सवाल उठाया है कि “अगर आप चौकीदार हैं तो अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के आरोपी गिरफ्तार क्यों नहीं हो रहे हैं. क्यों देश की तीन टॉप एजेंसी मेरे बेटे की तलाश में फेल हो गई हैं.”

नजीब के भाई हसीब अहमद ने कहा कि “सीबीआई, दिल्ली पुलिस और एसआईटी नजीब को तलाश करने में फेल हो गई हैं तो फिर ये कैसी निगरानी है. मोबाइल और लैपटॉप की जांच तक नहीं हो पाती है तो ये कैसी निगरानी है.”

गौरतलब रहे कि यूपी के बदायूं का रहने वाला नजीब अक्टूबर 2016 से जेएनयू के हॉस्टल से गायब चल रहा है. सीबीआई इस मामले में क्लोजर रिपोर्ट दाखिल कर चुकी है.

Source

Related posts

पूर्व CM वीरभद्र सिंह ने बोला हमला, कहा-मोदी सरकार का हथियार बन कर रह गई है CBI

digitalhimachal

दुनिया के सबसे धनी अमेजन के संस्थापक जेफ ने की तलाक की घोषणा, 25 साल बाद होंगे अलग

digitalhimachal

अमरीका में मोदी के नाम पर जीते हैं डॉनल्ड ट्रम्प: धूमल

digitalhimachal

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy