Himachal Schools

हिमाचल के सभी सरकारी स्कूलों में होंगे उप प्रधानाचार्य

प्रदेश के सरकारी स्कूलों में तैनात पीजीटी की नामावली प्रवक्ता (लैक्चरर) के रूप में बदली जाएगी और इस संदर्भ में अधिसूचना शीघ्र ही जारी की जाएगी इसके अतिरिक्त राज्य में सभी वरिष्ठ माध्यमिक पाठशालाओं में उप प्रधानाचार्य के पद सृजित किए जाएंगे. यह घोषणा मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने रविवार को ऊना जिले गोंदपुर बनहेड़ा में हिमाचल प्रदेश शिक्षक संघ के चतुर्थ क्षेत्रीय सेमिनार को सम्बोधित करते हुए की.

मुख्यमंत्री ने गुणात्मक शिक्षा पर बल देते हुए कहा कि मूल्यों के बिना शिक्षा समाज के लिए विनाशकारी है. उन्होंने कहा कि सुदृढ़ समाज के लिए छात्रों में उच्च नैतिक मूल्यों को विकसित करना शिक्षकों का कर्तव्य है. शिक्षकों को हमारी संस्कृति और परम्परा के बारे में छात्रों को शिक्षित करना चाहिए ताकि वह अपनी समृद्ध संस्कृति और इतिहास पर गर्व कर सकें.

जय राम ठाकुर ने कहा कि एक छोटा राज्य होने के बावजूद भी हिमाचल प्रदेश को देश के बड़े राज्यों की श्रेणी में शिक्षा क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ राज्य के रूप में चुना गया है, जिसका श्रेय राज्य सरकार की बेहतर नीतियों के अलावा शिक्षकों को भी जाता है. उन्होंने कहा कि एक समय में हमारे देश को विश्व गुरु के रूप में जाना जाता था और यहां की गुरु-शिष्य की परम्परा को सभी सराहते थे. उन्होंने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि यह परम्परा धीरे-धीरे लुप्त हो रही है. उन्होंने शिक्षकों से एक बार फिर सामूहिक रूप से कार्य करने का आग्रह किया ताकि इस खोए हुए गौरव को वापस पाया जा सके.
मुख्यमंत्री ने कहा कि परीक्षाओं के दौरान छात्रों में नकल की बढ़ती प्रवृत्ति की जांच के लिए शिक्षकों को भी आगे आना चाहिए. उन्होंने कहा कि शिक्षकों को छात्रों को नैतिक मूल्यों के बारे में जागरूक करना चाहिए ताकि वे खुद ही नकल न करें. उन्होंने कहा कि शिक्षकों को अपने आचरण और चरित्र से एक उदाहरण स्थापित करना चाहिए.

Related posts

भाजपा विधायक ने हिमाचल प्रदेश में अपनी सरकार पर हमला किया

digitalhimachal

कोरोना ने फिर पकड़ी डरावनी रफ्तार! हिमाचल में मामले बढ़ने पर केंद्र ने जताई चिंता

digitalhimachal

भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया – अंतिम ओवर के बारे में धोनी और रोहित की सलाह काम आई : विराट

digitalhimachal

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy