Bilaspur News in Hindi Health Himachal Poltics

जेपी नड्डा और जय राम ठाकुर ने किया एम्स का भूमि पूजन

शिमला. मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर और केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री जगत प्रकाश नड्डा ने सोमवार को बिलासपुर जिला के कोठीपुरा में बनने वाले अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) का भूमि पूजन किया. इस अवसर पर मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने कहा कि एम्स राज्य के लोगों के लिए वरदान साबित होगा. क्योंकि इसके बनने से लोगों को अपने घर-द्वार के नजदीक विश्व स्तरीय विशेषज्ञ स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध होंगी.

उन्होंने कहा कि 1351 करोड़ रुपए की लागत से निर्मित होने वाले एम्स का निर्माण दो वर्षों के भीतर पूरा किया जाएगा. इस संस्थान में 750 बिस्तरों की क्षमता होगी, जिसमें से 300 बिस्तर सुपर स्पेशियलिटी के लिए होंगे. इसमें एमबीबीएस की 100 सीटें और नर्सिंग की 60 सीटें होंगी.

जय राम ठाकुर ने कहा कि पूर्व प्रदेश सरकार के इस संस्थान को भूमि हस्तांतरण में अकारण देरी के कारण राज्य के लोगों को विशेषज्ञ स्वास्थ्य सेवाओं से वंचित होना पड़ा. वर्तमान राज्य सरकार ने तत्काल भूमि हस्तांतरण सुनिश्चित करवाया, बल्कि संस्थान के लिए अतिरिक्त 48 हेक्टेयर भूमि प्रदान करने के लिए हर संभव सहायता प्रदान की, जिससे इस प्रमुख संस्थान का कार्य शीघ्र आरम्भ हो सके.

नरेन्द्र मोदी को देश का नेतृत्व करते देखना चाहते हैं

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की उदारता के कारण केन्द्र सरकार ने प्रदेश को एम्स, पीजीआई का सेटेलाइट सेंटर, चार मेडिकल कॉलेज, आईआईआईटी और आईआईएम आदि स्वीकृत किए हैं. इसके अतिरिक्त राज्य ने केन्द्र से 9500 करोड़ रुपए की परियोजनाएं स्वीकृत करवाने में सफलता हासिल की है. यह अति आवश्यक है कि राज्य के विकास में कोई बाधा न आए और इसके लिए राज्य के लोगों की प्रधानमंत्री को बिना शर्त सहयोग देना चाहिए. लोग आने वाले कई वर्षों तक नरेन्द्र मोदी को देश का नेतृत्व करते देखना चाहते हैं.

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि परियोजना का निर्माण एनबीसीसी लिमिटेड द्वारा किया जाएगा. इसमें 15 ऑपरेशन थियेटर और 20 स्पेशिएलिटी और सुपरस्पेशिऐलिटी विभाग होंगे. इसके अतिरिक्त, इसमें 30 बिस्तरों वाला आयुष विभाग भी होगा, जिसमें परम्परागत चिकित्सीय प्रणालियों कि ओर से उपचार सुविधाएं प्रदान की जाएंगी. उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार कि ओर से देश के विभिन्न राज्यों के लिए 14 एम्स स्वीकृत किए गए थे. हिमाचल प्रदेश भाग्यशाली है, क्योंकि यहां के लिए भी एक एम्स प्राप्त हुआ है.

इस अवसर पर मुख्यमंत्री और केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने प्रस्तावित साईट के परिसर में पौधा रोपण किया. स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री विपिन सिंह परमार ने कहा कि मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के सत्ता संभालने के उपरान्त वर्तमान राज्य सरकार ने विकास की नई ऊंचाईयों को हासिल किया है. लोगों को चिकित्सकों की कमी से न जूझना पड़े, इसके लिए पिछले एक वर्ष के दौरान राज्य में सैंकड़ों चिकित्सों की नियुक्ति की गई है.

सांसद अनुराग ठाकुर ने कहा कि यद्यपि इस परियोजना की स्वीकृति काफी पहले वर्ष 2014 में की गई थी. इसका निर्माण कार्य 2019 में ही शुरू हो पाया है, क्योंकि पूर्व राज्य सरकार ने इस संस्थान के लिए उपयुक्त भूमि प्रदान नहीं की थी. यह संस्थान न केवल राज्य के लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान करेगा, बल्कि इस क्षेत्र के लोगों को रोजगार व स्वरोजगार की भरपूर संभावनाएं भी प्रदान करेगा.

भाजपा के राज्य प्रवक्ता रणधीर शर्मा ने कहा कि यह राज्य के लोगों विशेषकर बिलासपुर जिला के लोगों के लिए ऐतिहासिक दिन है जब यह महत्वाकांक्षी एम्स परियोजना अंततः आरम्भ हो रही है. इस योजना ने कोठीपुरा को राज्य का एक मुख्य केन्द्र बनाया है. यह प्रमुख संस्थान राज्य के लोगों के लिए वरदान साबित होगा. उन्होंने क्षेत्र की विभिन्न विकासात्मक मांगों को भी रखा.संयुक्त सचिव स्वास्थ्य सुनील शर्मा ने इस अवसर पर एम्स के निर्माण पर प्रस्तुति दी.

Source

Related posts

VIDEO : IPL मैच के दौरान लगे “चैकिदार चोर है” के नारे, कांग्रेस नेता बोले -‘चौकिदार की पोल खुल गई’ .. वायरल हुआ वीडियो

digitalhimachal

राज्यपाल ने हिमाचल सरकार को सराहा, कहा वक्त से पहले पूरे किए वादे

digitalhimachal

बाबा रामदेव की मांग, संन्यासियों को मिले भारत रत्न

digitalhimachal

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy