Himachal Kullu News in Hindi

दहकते अंगारों पर नाचे माता नैणा भद्रकाली के गूर, पांव में नहीं आई कोई आंच

Himachal Pradesh News देवभूमि की परंपरा व देवताओं के प्रति आस्‍था औरों से भिन्‍न है। जिला कुल्लू के भुंतर स्थित पिपलागे में नैणा माता मंदिर में माता के 22वें जाग उत्सव का आयोजन किया गया। दहकते अंगारों पर गूरों व चेलियों का हैरतअंगेज नृत्य देख हर कोई दंग रह गया।

Himachal Pradesh News, देवभूमि हिमाचल की परंपरा व देवताओं के प्रति आस्‍था औरों से भिन्‍न है। जिला कुल्लू के भुंतर स्थित पिपलागे में नैणा माता मंदिर में माता के 22वें जाग उत्सव का आयोजन किया गया। दहकते अंगारों पर गूरों व चेलियों का हैरतअंगेज नृत्य देख हर कोई दंग रह गया। यह नजारा मंगलवार देर रात देखने को मिला। माता के गूरों व चेलियों ने देव खेल आने पर दहकते अंगारों पर नृत्य कर आस्था का परिचय दिया। इस धार्मिक कार्यक्रम को देखने के लिए इलाके के लोगों के अलावा प्रदेशभर से श्रद्धालु उमडे़।

माता के पुजारी अमित महंत ने बताया कि माता नैणा का 22वां जागरण (जाग) धूमधाम से नैणा माता मंदिर पिपलागे में मनाया गया। इस जाग महोत्सव में माता भद्रकाली, माता कोयला, माता शीतला, माता छत्रेश्वरी अपने कारकूनों ओर हारियानों सहित विशेष रूप से शामिल हुईं। उन्होंने बताया इस मौके पर भजन मंडली ने भजन कीर्तन के माध्यम से माता की महिमा का बखान कर श्रद्धालुओं को मंत्रमुग्ध किया।

रात एक बजे माता नैणा, भद्रकाली अपने, कारकूनों, हारियानो सहित ढोल नगाड़े के साथ मंदिर में प्रवेश किया और अंगारों के चारों ओर परिक्रमा की। इस जाग की अद्भुत बात यह है कि हर साल यहां पर माता के गूर, चेलियां दहकती आग के अंगारों पर चलते हैं और माता रानी की कृपा से किसी के भी पैर में आंच तक नहीं आती है। उन्होंने बताया कि जाग के दिन माता ने सभी भक्तों के दुखों का निवारण किया और सभी को मनवांछित फल प्रदान किया। माता रानी नारियल से सभी भक्तों के ग्रहों का निवारण करती हैं।

Related posts

पालमपुर में डीसी की गाड़ी का कटा चालान

digitalhimachal

हिमाचल प्रदेश के14 College NAAC मान्यता प्राप्त करने में असफल, सतर्क

digitalhimachal

CM ने बर्फबारी से बंद हुई सड़कों, बिजली-पानी को तुरंत बहाल करने के दिए आदेश

digitalhimachal

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy