Jammu Kashmir

पुलवामा अटैक के मास्टरमाइंड और जैश के टॉप कमांडर गाजी रशीद को मार गिराया

पुलवामा में सीआरपीएफ पर अटैक के बाद सुरक्षाबलों ने कश्मीर में बड़ी कार्रवाई की है. सुरक्षाबलों के एनकाउंटर में पुलवामा अटैक के मास्टरमाइंड और जैश के टॉप कमांडर गाजी रशीद को मार गिराया गया है. बता दें कि पुलवामा अटैक में आत्मघाती हमलावर ने सीआरपीएफ की बस को उड़ा दिया था. घटना में 40 सीआरपीएफ जवान शहीद हो गए थे.

दरअसल, पिछले साल त्राल में एक मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने स्नाइपर और मौलाना मसूद अजहर के भतीजे को मार गिराया था. इसी के बाद जैश-ए-मोहम्मद ने अपने टॉप कमांडर और आईईडी एक्सपर्ट गाजी रशीद को कश्मीर भेजा. गाजी कथित तौर पर घुसपैठ कर दक्षिणी कश्मीर पहुंचने में सफल रहा था.

तस्वीरें: शहादत की खबर सुनकर मां-पत्नी बेसुध, बिलख रहा 15 दिन का मासूम बेटा

ऐसा कहा गया था कि गाजी अपने 2 सहयोगियों के साथ दिसंबर में भारत में घुसपैठ किया और दक्षिण कश्मीर में छिप गया. इंटेलिजेंस सूत्रों के मुताबिक, इससे पहले रत्नीपुरा गांव में कुछ ही दिन पहले हुए मुठभेड़ में गाजी रशीद किसी तरह भाग निकलने में सफल हो गया था.

बता दें कि सुरक्षाबलों ने रात 12 बजे ऑपरेशन शुरू किया था. इसमें 55RR, CRPF और SOG के जवान लगाए गए थे. मुठभेड़ में 4 जवान शहीद भी हो गए. आखिरकार गाजी मारा गया.

सुरक्षाबलों ने बड़ी कार्रवाई करते हुए उस बिल्डिंग को ही उड़ा दिया जिसमें आतंकी छिपे हुए थे. गाजी कई आतंकी हमलों के लिए जिम्मेदार था.

गाजी ने 2008 में जैश-ए-मोहम्मद ज्वाइन किया और तालिबान में ट्रेनिंग ली थी. 2010 में वह उत्तरी वजीरिस्तान आ गया था.

ट्रेनिंग लेने के बाद से ही गाजी आतंक की दुनिया में शामिल हो गया. कुछ ही समय बाद उसने पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर के इलाके में युवा लड़ाकों को ट्रेनिंग करनी शुरू दी थी.

Related posts

जम्मू बस स्टैंड पर जोरदार धमाका, 28 घायलः इलाके को सुरक्षा बलों के घेरा

digitalhimachal

पुलवामा हमले के बाद हिमाचल से गिरफ्तार कश्मीरी युवक की पहली तस्वीर आई सामने

digitalhimachal

क्या है धारा 370 जो जम्मू-कश्मीर के नागरिकों को अन्य भारतीयों से अलग अधिकार देती है

digitalhimachal

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy