Himachal Sports

WI से जीते लेकिन वर्ल्ड कप में भारत के लिए मुसीबत बन सकती है धोनी की यह कमजोरी

भारत ने आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप 2019 के मैच में वेस्टइंडीज को 125 रनों से हराकर टूर्नामेंट में छठी जीत दर्ज की है. भारत 11 अंकों के साथ 10 टीमों की अंकतालिका में दूसरे स्थान पर आ गया है. न्यूजीलैंड के भी 11 अंक हैं लेकिन बेहतर रन रेट के कारण भारत आगे है.

वर्ल्ड कप 2019 में अब तक भारत ने साउथ अफ्रीका, ऑस्ट्रेलिया, पाकिस्तान, अफगानिस्तान और वेस्टइंडीज को धूल चटाई है. टूर्नामेंट में भारत का सफर तो अब तक शानदार रहा है, लेकिन अनुभवी बल्लेबाज एमएस धोनी की एक कमजोरी आने वाले बड़े मुकाबलों में टीम के लिए मुसीबत बन सकती है.

एमएस धोनी की बैटिंग पर सवाल

महेंद्र सिंह धोनी की सबसे बड़ी कमजोरी जो अब तक सामने आई है, वह है स्ट्राइक को कम रोटेट करना और डॉट बॉल अधिक खेलना. वेस्टइंडीज के खिलाफ वर्ल्ड कप मैच में महेंद्र सिंह धोनी ने 61 गेंदों पर 56 रनों की पारी खेली. धोनी ने अपनी पारी के दौरान सिर्फ 3 चौके और 2 छक्के लगाए.

धोनी की इस पारी के दौरान सबसे दिलचस्प बात यह रही कि धोनी ने अपनी 56 रनों की पारी के दौरान पहले 26 रन 45 गेंदों पर बनाए. इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 57.78 का था. धोनी ने अगले 30 रन 16 गेंदों पर बनाए.तब उनका स्ट्राइक रेट 187.50 का था

हाफ पिच तक पहुंचे धोनी को स्टंप नहीं कर पाया इंडीज का विकेटकीपर

धोनी की इस कमजोरी के कारण भारत की पारी धीमी पड़ जाती है. पिछले दो मैचों में भारत की पारी खासकर 30 ओवरों के बाद काफी धीमी हुई है. जिससे भारत 300 के स्कोर तक नहीं पहुंच पा रहा है. अफगानिस्तान और वेस्टइंडीज के खिलाफ धोनी की बैटिंग बहुत साधारण रही है.

Related posts

हिमाचल के बलिदानी अनंत राम के परिवार का जज्बा देता है प्रेरणा, अब भतीजे कर रहे सेना में जाने की तैयारी

digitalhimachal

हिमाचली बेटे अजय ठाकुर को मिला ‘पद्मश्री’ पुरस्कार, राष्ट्रपति ने किया सम्मानित

digitalhimachal

CSK vs RCB Live Score, IPL T20: चेन्नई के सामने 70 का लक्ष्य, जाधव-रायडू क्रीज पर

digitalhimachal

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy