Govt Jobs in Himachal Pradesh Himachal Poltics

हिमाचल में परिवार के साथ सड़कों पर उतरेंगे आउटसोर्स कर्मचारी

Outsource Employees Of Himachal Will Protest In Shimla Along With Family

देेश आउट सोर्स कर्मचारियों महासंघ ने सरकार पर शोषण करने का आरोप लगाया है। महासंघ ने कहा कि प्रदेश के वार्षिक बजट में हर वर्ग का ध्यान रखा गया है लेकिन प्रदेश के हजारों आउटसोर्स कर्मियों की उपेक्षा की गई है।

सरकार से पूछा गया है कि पीटीए शिक्षकों की तर्ज पर आउटसोर्स कर्मचारियों को बराबर काम का बराबर वेतन क्यों नहीं दिया जा रहा? सरकार को धमकी दी गई है कि अगर आउट सोर्स कर्मचारियों के साथ आर्थिक न्याय नहीं किया तो ये कर्मचारी अपने परिवारों के साथ सड़कों पर उतरेंगे।

महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष धर्मेंद्र पंडित ने कहा कि प्रदेश सरकार ने बजट में आउट सोर्स कर्मचारियों के आर्थिक हितों की कोई रक्षा नहीं की। सरकार आउट सोर्स कर्मचारियों का शोषण बंद करे।

जब सरकार ने बजट में हर वर्ग के कर्मचारियों को वित्तीय लाभ पहुंचाया है तो फिर सरकार ने आउट सोर्स कर्मियों को इससे वंचित क्यों रखा गया। उन्होंने सरकार पर दोहरी नीति अपनाने का आरोप लगाया है।

वरिष्ठता लाभ नहीं मिलने से अनुबंध कर्मी निराश

हिमाचल प्रदेश अनुबंध नियमित कर्मचारी संगठन को बजट से निराशा हाथ लगी है। संगठन के अध्यक्ष मुनीष गर्ग और महासचिव अनिल सेन ने विभिन्न विभागों में भर्ती एवं पदोन्नति नियमों के तहत अनुबंध पर नियुक्त होने के बाद नियमित हुए कर्मचारियों को नियुक्ति की तिथि से वरिष्ठता नहीं देने पर रोष व्यक्त किया हैै।

मुनीष गर्ग के अनुसार विभिन्न विभागों में 2008 और उसके बाद अनुबंध पर नियुक्त हुए कर्मचारी लंबे समय से नोशनल आधार पर वरिष्ठता की मांग कर रहे हैं लेकिन अभी तक उनकी यह मांग पूरी नही हो पाई है। अनुबंध से नियमित होने के बाद इन कर्मचारियों की अनुबंध काल की सेवा को उनके कुल सेवा काल में नही जोड़ा जा रहा है।

Related posts

सीएम ने किया ‘मेरा परिवार भाजपा परिवार’ अभियान का शुभारम्भ

digitalhimachal

संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हुआ शिक्षक नदी में कूदने की जताई जा रही आशंका

digitalhimachal

चंदेल के आने से रोचक हो सकती है हमीरपुर की जंग

digitalhimachal

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy