Chandigarh Jammu Kashmir

शहादत को सलाम : पुलवामा हमले में शहीद हुआ 55 राइफल सेना का नायक हरी सिंह

चंडीगढ़। पुलवामा में रविवार देर रात्रि सेना व आतंकवादियों की मुठभेड़ में रेवाड़ी के जवान हरी सिंह शहीद हो गए। शहीद हरी सिंह रेवाड़ी के गांव राजगढ़ के रहने वाले थे। सोमवार तड़के आतंकियों की नापाक हरकत का हरी सिंह ने मुंहतोड़ जवाब दिया और पुलवामा हमले के मास्टरमाइंड को मारने में पूरा सहयोग किया।

हरी सिंह के शहीद होने की खबर मिलने से गांव में मातम छा गया और पाकिस्तान के खिलाफ युवाओं का गुस्सा और बढ़ गया। युवाओं ने पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाते हुए खून का बदला खून से लेने की मांग की।

जिला सैनिक बोर्ड की ओर से सोमवार सुबह हरी सिंह के शहादत की सूचना परिजनों को दी गई। जिला सैनिक बोर्ड के अनुसार हरी सिंह वर्ष 2011 में सेना में भर्ती हुए थे और वह पुलवामा में तैनात थे। वह दिसम्बर में छुट्टी के बाद पुलवामा गए थे।

ग्रामीण रणजीत सिंह ने बताया कि हरी सिंह तीन बहनों का इकलौता भाई था। दो साल पहले उसकी शादी हुई थी। उसका एक वर्ष का लड़का समागम है।

Related posts

क्या है धारा 370 जो जम्मू-कश्मीर के नागरिकों को अन्य भारतीयों से अलग अधिकार देती है

digitalhimachal

Best Web Designing Course In Chandigarh

digitalhimachal

Top 5 SSC Coaching Institutes In Chandigarh 2019 (With Fees & Course Details)

digitalhimachal

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy